baliदेशराजस्थान

सोशल मीडिया में वायरल भी हो रही है, बाली के विचित्र नवजात के फोटो

Unique Baby Birth: दो सिर के अलावा चार पैर और चार ही हाथ हैं।

शरीर एक और सिर दो। इस विचित्र बच्चे का जन्म राजस्थान के पाली जिले के बाली हुआ है। बच्चे की तस्वीर सोशल मीडिया में वायरल भी हो रही है। वहीं, अस्पताल में भी इस बच्चे को देखने के लिए आने वालों का तांता लगा हुआ है।

गांव मालनू की है प्रसूता

जानकारी के अनुसार राजस्थान के पाली जिले के बाली उपखंड के गांव मालनू निवासी ममता के प्रसव पीड़ा होने पर परिजनों ने उसे 60 किलोमीटर दूर बाली उपखंड मुख्यालय स्थित डॉ. शोभा नर्सिंग होम में भर्ती करवाया, जहां पर रविवार रात 11 बजे उसने एक बच्चे को जन्म दिया।

bizarre-childs-birth
bizarre-childs-birth

पाली जिले  में संभवतया पहला मामला

खास बात यह है कि बच्चे का ​शरीर एक ही है, मगर उसके सिर दो हैं। बच्चे की स्थिति नाजुक बनी हुई है। डॉक्टर शोभा वर्मा के अनुसार यह बहुत दुलर्भ मामला है। लाखों में ऐसा एक केस पाया जाता है। पाली जिले में यह संभवतया पहला मामला है.

ममता की पहली डिलीवरी थी, जो ऑपरेशन के जरिए हुई है। ममता के जन्मे बच्चे दो हैं, मगर पेट से आपस में चिपके हुए हैं। दो सिर के अलावा चार पैर और चार ही हाथ हैं। इनमें से सिर्फ एक बच्चा अपरिपक्व है। ममता और उसके दोनों बच्चों को एम्स जोधपुर में रैफर किया गया है।

Unique Baby Birth. राजस्थान में जोधपुर संभाग के पाली जिले के बाली से  विचित्र नवजात के पैदा होने का मामला सामने आया है। अमूमन देश-विदेश में इस तरह के मामले घटित होने के समाचार शोसल मीडिया पर वायरल होते हैं, लेकिन इस बार पाली जिले मालनू निवासी एक महिला ने विचित्र बालक को जन्म दिया है, जिसके शरीर तो एक है, लेकिन धड़ दो हैं। मामले को लेकर जोधपुर एम्स की टीम को सूचना दी गई है। उधर, बच्चों की स्थिति भी नाजुक बनी हुई है।

जानकारी के अनुसार, पाली जिले के बाली कस्बे में स्थित एक निजी अस्पताल में मालनू निवासी ममता ने एक ऐसे बच्चे को जन्म दिया, जिसके शरीर तो एक है और सिर दो हैं। अस्पताल की चिकित्सक डॉ . शोभा वर्मा ने बताया कि सोमवार सुबह  महिला ने इस बच्चे को जन्म दिया, जिसके शरीर में दो सिर हैं। फिलहाल, इनकी स्थिति नाजुक है। इसके बाद चिकित्सकों के दल ने इस बारे में जोधपुर एम्स दल को अवगत कराया।

bizarre-childs-birth
bizarre-childs-birth

डॉक्टर ने बताया हमने एम्स से डॉक्टरों की टीम बुलवा ली है, लेकिन महिला के परिवार का कोई सदस्य जाने को तैयार नहीं है। इधर, महिला की स्थिति तो ठीक है लेकिन बच्चो की स्थिति गंभीर बनी हुई है, जिनका उपचार जारी है। अस्पताल चिकित्सक डॉ. शोभा वर्मा ने बताया उन्होंंने भी ऐसा मामला पहली बार देखा है। बच्चे के सिर दो और शरीर एक हैं। चिकित्सक इसे बिरला मामला बता रहे हैं। बीसीएमओ के प्रयास से बच्चे को जोधपुर एम्स रेफर कर दिया गया। बाली क्षेत्र की मालनू निवासी 23 वर्षीया प्रसूता ममता पत्नी मादाराम देवासी ने इस विचित्र बच्चे को जन्म दिया हैं। फिलहाल दाएं सिर वाले बच्चे की हालत नाजुक है। बाली के डॉ.शोभा अस्पताल की स्त्री रोग विशेषज्ञ डॉ. शोभा वर्मा ने बताया कि उनके अस्पताल में यह बच्चा जन्मा हैं और इस तरह के बच्चे लाखों मे एक होते हैं। उन्होंने बताया कि वे 48 वर्ष से चिकित्सा पेशे से जुड़ी हैं। लेकिन उनके जीवन में यह पहला मामला हैं। सूचना मिलने के बाद अस्पताल पहुंचे राजकीय अस्पताल बाल रोग विशेषज्ञ डॉ. नरेश राजपुरोहित ने बच्चे के स्वास्थ्य की गहनता से जांच की। बाद में प्रसूता के परिजनों को बच्चे को लेकर परामर्श दिया। उन्होंने बताया कि उनके लिए इस तरह का यह तीसरा मामला हैं। इस तरह की सर्जरी के लिए जोधपुर एम्स में सुविधा हैं। बाद में बीसीएमओ डॉ. हितेंद्र बागोरिया के प्रयास से 108 एम्बुलेंस के जरिए जस्सा व बच्चा को जोधपुर के एम्स के लिए रैफर कर दिया गया।

Tags

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Close

Adblock Detected

Please consider supporting us by disabling your ad blocker