दिल्ली के सीएम ने घोषणा की है कि 420 टन ऑक्सीजन स्टोरेज कैपेसिटी बनाएंगे. 150 टन ऑक्सीजन प्रोडक्शन के लिए IGL से बात हो गई है.

नई दिल्ली: कोरोना वायरस (Coronavirus) की दूसरी लहर से चरमराई स्वास्थ्य व्यवस्था को देखते हुए कई राज्य अभी से तीसरी लहर से निपटने की तैयारी में जुट गए हैं. दिल्ली में भी कोविड-19 की तीसरी लहर (Third COVID Wave) से निपटने की तैयारी जोर-शोर से चल रही है. दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल (Arvind Kejriwal) ने शनिवार को लॉकडाउन में रियायतों की घोषणा करते हुए तीसरी लहर को लेकर सरकार की तैयारियों की जानकारी दी.

कोरोना की लहर से निपटने को लेकर दिल्ली की कुछ बड़ी घोषणाएं

– सीएम केजरीवाल ने कहा कि तीसरी लहर के लिए दिल्ली सरकार तैयारी कर रही है. दो समितियां बनाई हैं. अगली पीक 37,000 नए मामलों की मानकर तैयारी करेंगे. ये एक्सपर्ट्स से बात करके तय हुआ है. इससे ज़्यादा मामले आये तो उसको भी हैंडल करेंगे.
– बच्चों के लिए अलग से टास्क फोर्स बनाई है, जो बच्चों के लिए ICU, बेड्स, इक्विपमेंट पर ध्यान देगी.
– दिल्ली के सीएम ने घोषणा की है कि 420 टन ऑक्सीजन स्टोरेज कैपेसिटी बनाएंगे. 150 टन ऑक्सीजन प्रोडक्शन के लिए IGL से बात हो गई है. 25 ऑक्सीजन टैंकर दिल्ली खरीद रही है. 64 छोटे छोटे ऑक्सीजन प्लांट लग रहे हैं 1-2 महीने में लग जाएंगे.
– अभी 6 हज़ार ऑक्सीजन सिलिंडर हम खरीद चुके हैं, ऑक्सीजन कंसंट्रेटर हम खरीद रहे हैं.
– डॉक्टर और एक्सपर्ट्स की टीम बनाएंगे, जो बताएगी कि किसी दवाई से कोरोना में कितना फायदा होगा तो उसका इंतेज़ाम सरकार करेगी. ज़रूरी दवाओं का बफर स्टॉक बनाएंगे.

– 2 जीनोम सिक्वेंसीनग लैब LNJP और ILBS में शुरू की जाएगी, जिससे हमको भी नए वैरिएंट के बारे में पता रहे.

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *