trump

कोरोना संकट : अमेरिकी राजकोषीय विभाग तीन हजार अरब डॉलर का कर्ज लेने की बना रहा योजना

अमेरिका के राजकोषीय विभाग ने कहा है कि वह कोरोना वायरस वैश्विक महामारी से निपटने के लिए अप्रैल-जून तिमाही के दौरान करीब तीन हजार अरब डॉलर का कर्ज लेने की योजना बना रहा है। अखबार ‘वॉल स्ट्रीट जर्नल’ के मुताबिक यह 2008 के वित्तीय संकट के चरम पर पहुंचने के दौरान लिए गए कर्ज से पांच गुना अधिक है।  अमेरिका के राजकोषीय विभाग ने एक आधिकारिक बयान में सोमवार को बताया गया कि अप्रैल-जून तिमाही के दौरान, अमेरिकी राजकोष विभाग 2.9 हजार अरब डॉलर के बॉन्ड बेचकर यह राशि जुटाएगा। यह कर्ज यह मानकर लिया जाएगा कि 800 अरब डॉलर का शेष नकद जून के अंत तक समाप्त हो जाएगा।  इसमें कहा गया, “निजी नियोजन के आधार पर बॉन्ड बेचकर कर्ज ली जाने वाली यह राशि कोविड-19 प्रकोप के असर की वजह से है जिसमें व्यक्तियों एवं कारोबारों को मदद देने के लिए नये कानून में आने वाला खर्च, कर की राशि में बदलाव, और जून के अंत में राजकोषीय नकद शेष में बढ़ोतरी का अनुमान शामिल है।”  अमेरिकी राजकोषीय विभाग ने कहा कि यह कर्ज इस साल फरवरी में घोषित राशि से 3,055 अरब डॉलर ज्यादा है। इसने बताया कि पहली तिमाही के दौरान, राजकोष ने 477 अरब डॉलर के बॉन्ड बेचकर कर्ज लिया था और तिमाही 515 अरब डॉलर के शेष नकद के साथ समाप्त हुआ था।

Post a Comment

और नया पुराने