गृह मंत्रालय ने गैर हॉटस्‍पॉट क्षेत्रों में मॉल को छोडकर सभी दुकानों को फिर से खोलने की अनुमति दी

गैर हॉटस्‍पॉट क्षेत्रों में मॉल को छोडकर सभी दुकानों को फिर से खोलने की अनुमति दी



देशवासियों  को बड़ी राहत देते हुए केंद्र सरकार ने आज से आवश्‍यक वस्‍तुओं के अलावा अन्‍य वस्‍तुओं और सेवाओं की दुकानें भी खोलने की अनुमति दे दी है। गृह मंत्रालय ने आज स्‍पष्‍ट किया कि नोवल कोरोना वायरस लॉकडाउन के बीच बड़े और छोटे शॉपिंग मॉल को छोड़कर, देश के ग्रामीण इलाकों में सभी दुकानें खोलने की अनुमति दी गई है।  शहरी क्षेत्रों में सभी इक्‍का-दुक्‍का दुकानें और पड़ोस की दुकानें तथा आवासीय परिसरों में स्थित दुकानें खोलने की अनुमति भी दी गई है। हाला की नगर निगमों और नगर पालिकाओं के अंतर्गत बाजारों में दुकानें खोलने की अनुमति नहीं होगी। नगर पालिका क्षेत्रों के बाजार, मल्‍टीब्रेंड और सिंगल ब्रेंड मॉल, हॉटस्‍पॉट और कंटेनमेंट जोन में दुकानें नहीं खुलेगी।  बाजारों, बाजार परिसरों और शॉपिंग मॉल में दुकानें खोलने की अनुमति नहीं दी गई। गृह मंत्रालय ने यह भी स्‍पष्‍ट किया है कि ई-कॉमर्स कंपनियां केवल आवश्‍यक वस्‍तुओं की बिक्री करती रहेंगी। कोविड-19 प्रबंधन के लिए राष्‍ट्रीय निर्देशों के तहत देशभर  में शराब और अन्‍य स्वास्थ्य घातक चीजों की बिक्री पर पांबदी रहेगी। हॉटस्‍पॉट और कंटेनमेंट जोन में किसी भी प्रकार दुकान को खोलने की अनुमति नहीं होगी।  केंद्र सरकार के 15 अप्रैल के आदेश को संशोधित करते हुए गृह मंत्रालय ने कहा कि इन दुकानों में कामगारों को मास्‍क पहनना अनिवार्य होगा और साथ ही सामाजिक दूरी बनाये रखने के नियमों का पालन करना होगा। ऐसी दुकानों में केवल 50 प्रतिशत कर्मियों के साथ ही काम करना होगा। आस-पड़ोस की दुकानों को खोलने की अनुमति देकर ऐसे लोगों को राहत दी गई है जो 24 मार्च से लॉकडाउन का पालन कर रहे हैं। गृह मंत्रालय ने कल रमज़ान की पूर्व संध्‍या पर यह आदेश जारी किया।

0/Post a Comment/Comments

ad

ad