submit your Url to cotid.org tto improve marketing This site is listed under Internet Directory खबर बाड़मेर के जसोल से है जहां आंधी की रफ्तार ने मौत का तांडव बरपा दिया, 15 लोगों की मौत, 50 से अधिक घायल - THANKS INDIA NEWS

Breaking News

खबर बाड़मेर के जसोल से है जहां आंधी की रफ्तार ने मौत का तांडव बरपा दिया, 15 लोगों की मौत, 50 से अधिक घायल

खबर बाड़मेर के जसोल से है जहां आंधी की रफ्तार ने मौत का तांडव बरपा दिया, 15 लोगों की मौत, 50 से अधिक घायल

खबर बाड़मेर के जसोल से है जहां आंधी की रफ्तार ने मौत का तांडव बरपा दिया। जानकारी के अनुसार जसोल में एक धर्म कथा के दौरान अचानक  पांडाल गिर गया। पांडाल गिरने के बाद उसमें करंट फैल गया। अबतक इस हादसे में 15 लोगों के मारे जाने की सूचना है। इस हादसे में 50 से ज्यादा लोग घायल हो गए हैं। हादसे के बाद वहां अफरा-तफरी फैल गई। पुलिस-प्रशासन मौके पर राहत एवं बचाव कार्य में जुटा हुआ है।में एक धर्म कथा के दौरान अचानक  पांडाल गिर गया। पांडाल गिरने के बाद उसमें करंट फैल गया।
अब तक इस हादसे में 15 लोगों के मारे जाने की सूचना है। इस हादसे में 50 से ज्यादा लोग घायल हो गए हैं। हादसे के बाद वहां अफरा-तफरी फैल गई। पुलिस-प्रशासन मौके पर राहत एवं बचाव कार्य में जुटा हुआ है।
राम का नाम सुना और मौत आ गई: आंधी की रफ्तार ने मौत का अंधड़ छोड़ दिया । हवा का दबाव कम हुआ तो चीखें गुंजी। हर तरफ हाहाकार लेकिन बचाने के हाथ कम थे । अब जिला प्रशासन इस आपदा पर राहत के हाथ बंटा रहा है ।

बाड़मेर में बड़ा हादसा: तेज तूफान से पंडाल गिरा, 15 लोगों की मौत, 50 से अधिक घायल 

बाड़मेर। Barmer Balotra Pandal collapse: जिले के बालोतरा के पास जसोल में रविवार को तेज तूफान से कथा आयोजन का पंडाल (Pandaal collapsed in Barmer ) गिर गया। इसमें 15 लोगों की मौत हो गई है। जबकि 50 से अधिक लोग घायल हो गए। घायलों को सरकारी व निजी वाहनों से अस्पताल में पहुंचाया। कथा आयोजन में करीब 1500 से अधिक लोग मौजूद थे। हादसे के बाद बचाव और राहत कार्य शुरु कर दिया है। पुलिस महानिरीक्षक रेंज जोधपुर सचिन मित्तल ने 15 की मौत की पुष्टि की है। मुख्यमंत्री ने घटना की जांच के आदेश दिए हैं।


 जानकारी अनुसार श्री राणी भटियाणी मंदिर संस्थान जसोल के तत्वावधान में राम कथा (ram katha in balotra) का आयोजन एक दिन पहले शुरू हुआ। जहां अंतरराष्ट्रीय ख्याति प्राप्त कथाकार मुरलीधर महाराज प्रवचन सुना रहे थे। रविवार को अचानक तेज आंधी आने से पण्डाल गिर गया और पण्डाल में दबने से 15 लोगों की मौत हो गई। अचानक हुए घटनाक्रम के बाद मौके पर अफरा-तफरी मच गई। वहीं कई लोग पण्डाल में विद्युत लाइन की चपेट में आने से घायल हो गए। हादसें के बाद मौके पर बड़ी संख्या में प्रशासनिक अमले के अधिकारी पहुंचे और बचाव कार्य शुरू हुआ। घायलों को नाहटा अस्पताल बालोतरा पहुंचाया। जहां घायलों का उपचार चल रहा है।
हादसे की जानकारी के बाद शहर के निजी चिकित्सालयों के चिकित्सक बड़ी संख्या में सरकारी चिकित्सालय पहुंचे और घायलों का उपचार शुरु कर दिया है। हादसे की जानकारी पर पूर्व मंत्री अमराराम, नगर परिषद रतन खत्री, भाजपा जिला अध्यक्ष महेश चौहान सहित विभिन्न संगठनों संस्थाओं के पदाधिकारी चिकित्सालय पहुंचे। घटना की जानकारी ली। वहीं चिकित्सकों को बेहतर उपचार व्यवस्था करने के निर्देश दिए।
कथा वाचक बोले- तेज आंधी, पांडाल गिर रहा है बाहर निकलो 
दोपहर बाद लगभग साढ़े तीन बजे कथा वाचक मुरलीधर महाराज प्रवचन दे रहे थे और अचानक तेज आंधी का अहसास हुआ। उन्होंने श्रद्धालुओं को कहा कि हवा तेज है, कथा को रोकना पड़ेगा। बहुत तेज है, पांडाल उड़ रहा है। धीरे-धीरे पांडाल गिरने लगा। कथा वाचक ने कहा कि आप सभी पांडाल खाली कर बाहर निकलो और खुद भी दौड़ते हुए बाहर निकले। इतने में ही डोम ढह गया। हादसे के बाद बड़ी संख्या में लोग मौके पर पहुंचे।

जसोल,बाड़मेर में राम कथा के दौरान टेंट गिरने से हुए हादसे में बड़ी संख्या में लोगों की जान जाने की जानकारी अत्यंत दुखद, दुर्भाग्यपूर्ण है।ईश्वर से दिवंगतों की आत्मा को शांति प्रदान करने,शोकाकुल परिजनों को सम्बल देने की प्रार्थना है। घायलों के शीघ्र स्वास्थ्य लाभ की कामना करता हूँ



स्थानीय प्रशासन द्वारा राहत एवं बचाव का कार्य किया जा रहा है।
सम्बंधित अधिकारियों को हादसे की जांच करने, घायलों का शीघ्र उपचार सुनिश्चित करने तथा प्रभावितों एवं उनके परिजनों को हरसंभव सहायता उपलब्ध कराने के निर्देश दिए हैं।










कोई टिप्पणी नहीं