Breaking News

Amrish Puri- अमरीश पुरी का जन्म 22 जून 1932 को पाकिस्तान के लाहौर में हुआ था।


Happy Birthday Amrish Puri : कई हीरो पर भारी पड़ गया था एक अकेला विलेन, अमर हो गए ये रोल

नई दिल्ली। अमरीश पुरी...बॉलीवुड की दुनिया का एक ऐसा नाम जो मुंबई हीरो बनने आया था लेकिन दुनिया उसे विलेन के रूप में पहचाने लगी। अमरीश पुरी का जन्म 22 जून 1932 को पाकिस्तान के लाहौर में हुआ था। 12 जनवरी 2005 को इस एक्टर ने दुनिया को अलविदा कह दिया। लेकिन पीछ छोड़ गया अपने वो रोल जिसे आज तक लोग नहीं भुला पाए हैं।
Amrish Puri बर्थडे  विथ गूगल

‘मोगैंबो’ के नाम से पहचान बनाने वाले अमरेश पुरी बॉलीवुड के एक ऐसे विलेन थे जिन्हें आजतक कोई टक्कर नहीं दे पाया। अमरीश ने लगभग 400 बॉलीवुड फिल्मों में काम किया। जिनमें वो मजबूर पिता से लेकर खूंखार विलेन तक बने। अमरीश ने कई रोल्स किए लेकिन उनके कुछ रोल्स ऐसे थे जो आज भी लोगों के जुबान पर हैं। उनके जन्मदिन के मौके पर हम आपको बताते हैं अमरीश पुरी के उन रोल्स के बारे में जिन्होंने उन्हें विलेन बना दिया।
मिस्टर इंडिया : 
1987 में रिलीज हुई फिल्म ‘मिस्टर इंडिया’ में एक विलेन का किरदार निभाया था जिसमें उनका नाम ‘मोगैंबो’ था। अमरीश का ये किरदार आज भी लोगों के जहन में ताजा है। इस फिल्म में उनका एक डायलॉग था ‘मोगैंबो’खुश हुआ। ये डायलॉग इतना फेमस है कि लोग आज भी इसे दोहराते हैं।


नगीना :
‘नगीना’ में अमरीश ने एक सपेरे तांत्रिक का रोल निभाया था। अमरीश इस फिल्म में भी विलेन बने थे। 1986 में रिलीज हुई इस फिल्म में श्रीदेवी और ऋषि कपूर लीड रोल में थे। इस फिल्म में अमरीश पुरी का एक डायलॉग था ‘अलक निरंजन बोलत’, ये डायलॉग काफी फेमस हुआ था।



करण-अर्जुन :शाहरुख खान और सलमान खान की फिल्म 'करण-अर्जुन' में अमरीश ने जिस तरह एक विलेन का रोल निभाया था वो शाहरुख और सलमान पर भारी पड़ गए थे। उसमें वो ठाकुर दुर्जन सिंह बने थे जो पैसों के लिए अपने भाई का ही खून कर देता है। अमरीश का ये रोल भी काफी दमदार था।

 लोहा :
जब भी अमरीश के नेगेटवि रोल को याद किया जाएगा तो उनकी फिल्म लोहा को जरूर याद किया जाएगा। साल 1987 में आई 'लोहा' फिल्म का किरदार अमरीश पुरी के फिल्मी करियर का सबसे खतरनाक किरदार माना जाता है। इसमें अमरीश पुरी की न केवल एक्टिंग बल्कि उनके लुक ने भी लोगों को डरा दिया था।

कोयला :राकेश रोशन ने निर्दशन में बनी फिल्म ‘कोयला’ 7 अप्रैल 1997 में रिलीज हुई थी। इस फिल्म में अमरीश पुरी ने जो नेगेटिव रोल निभाया था वो सालों तक लोगों को याद रहा था। फिल्म में अमरीश पुरी ने राजा साहब का किरदार किया था।

नायक :7 सितंबर 2001 को रिलीज हुई अनिल कपूर की फिल्म ‘नायक’ को कौन भूल सकता है। इस फिल्म में अमरीश  ने मुख्यमंत्री का रोल निभाया था। जो अपनी कुर्सी बचाने के लिए शहर में दंगा बढ़ने देता है। अमरीश का ये रोल काफी फेमस हुआ था।
गदर :अमीषा पटेल और सनी देओल की फिल्म 'गदर: एक प्रेम कथा' में अमरीश पुरी ने खूसट बाप का किरदार निभाया था। इस फिल्म में अमरीश पुरी एक कट्टर पाकिस्तानी नेता के रोल में नजर आए थे। जो हिंदुस्तान की धरती पर पांव रखने के लिए भी राजी नहीं था।