submit your Url to cotid.org tto improve marketing This site is listed under Internet Directory Lok Sabha Election Result 2019: खुद को दोहरा रहा है इतिहास, 71 में इसी तरह जीती थीं इंदिरा गांधी - THANKS INDIA NEWS

Breaking News

Lok Sabha Election Result 2019: खुद को दोहरा रहा है इतिहास, 71 में इसी तरह जीती थीं इंदिरा गांधी


Lok Sabha Election Result 2019: खुद को दोहरा रहा है इतिहास, 71 में इसी तरह जीती थीं इंदिरा गांधी

इंदिरा गांधी पहले पांच साल देश की प्रधानमंत्री रह चुकी थीं. उनके पास बहुमत था. लेकिन जब वह चुनाव मैदान में कूदीं तो कांग्रेस 350 सीटें पार हो गई.

लोकसभा चुनाव 2019 की मतगणना जारी है. शुरुआती रुझानों के अनुसार दोपहर डेढ़ बजे तक भारतीय जनता पार्टी (BJP) के नेतृत्व वाला राष्ट्रीय जनतांत्रिक गठबंधन (NDA) कुल 345 सीटों पर आगे चल रहा है. जबकि भारतीय राष्ट्रीय कांग्रेस (INC) के नेतृत्व वाला संयुक्त प्रगतिशील गठबंधन (UPA) कुल 89 सीटों पर बढ़त बनाए हुए हैं. इसमें कांग्रेस पार्टी कुल 50 सीटों बढ़त बनाए हुए है. यह आंकड़े बिल्कुल साल 1971 के लोकसभा चुनाव परिणाम की ओर बढ़ रहे हैं. इतना ही नहीं, साल 2014 के चुनाव परिणाम भी 1967 के चुनावों से वही संबंध है.

48 साल पहले के कुछ आंकड़े देखिए
1971 आम चुनाव के रिजल्ट
जीतने वाली पार्टीः कांग्रेस
जीती सीटें: 352
प्रमुख विपक्षी पार्टीः इंडियन नेशनल कांग्रेस (ऑर्गनाइजेशन) या सिंडिकेट
प्रमुख विपक्षी पार्टी को मिली सीटें: 51प्रधानमंत्रीः इंदिरा गांधी

इससे पांच साल पहले

1967 आम चुनाव रिजल्ट
जीतने वाली पार्टीः कांग्रेस
जीती सीटें: 283
प्रमुख विपक्षी पार्टीः स्वतंत्र पार्टी
प्रमुख विपक्षी पार्टी की सीटें: 44 सीटें
प्रधानमंत्री: इंदिरा 

वर्तमान हालात

साल 2019 आम चुनाव रिजल्ट
शुरुआती रुझान में आगे पार्टीः बीजेपी नीत गठबंधन एनडीए
रुझानों में सबसे बड़ी पार्टी की सीटें: एनडीए की सीटें 345, बीजेपी 290
प्रमुख विपक्षी पार्टीः कांग्रेस नीत गठबंधन यूपीए
प्रमुख विपक्षी पार्टी की सीटें: यूपीए की सीटें 90, कांग्रेस 50
प्रधानमंत्री पद के उम्मीदवारः एनडीए के पीएम मोदी

पांच साल पहले

साल 2014 आम चुनाव के रिजल्ट
जीतने वाली पार्टीः बीजेपी के नेतृत्व वाला गठबंधन एनडीए
जीतने वाली पार्टी की सीटें: एनडीए 354, बीजेपी 282
प्रमुख विपक्षी पार्टीः कांग्रेस के नेतृत्व वाला गठबंधन यूपीए
प्रमुख विपक्षी पार्टी की सीटें: यूपीए 66, कांग्रेस की सीटें 44
प्रधानमंत्रीः नरेंद्र मोदी

साल 1967 में कांग्रेस की एकतरफा जीत हुई. कांग्रेस को बहुमत मिला. इंदिरा गांधी देश की देश की  प्रधानमंत्री बनीं. उनके पास संख्या बल और नेतृत्व बल दोनों था. उनके सामने विपक्ष न के बराबर बचा था. इंदिरा गांधी के सबसे बड़े विरोधी दल स्वतंत्र पार्टी के पास कुल 44 सीटे थीं. इसी तरह साल 2014 में भारतीय जनता पार्टी की एकतरफा जीत हुई. नरेद्र मोदी पीएम बने. उनके सामने विपक्षी दल कांग्रेस के पास कुल 44 सीटें आईं. गांधी
ठीक 1967 के बाद 1971 में लोकसभा चुनाव हुए. इंदिरा गांधी देश की पहले ही पांच साल प्रधानमंत्री रह चुकी थीं. लेकिन जब 1971 में चुनाव हुए तो देश ने उन्हें पहले से ज्यादा जनादेश दिया. 1971 में इंदिरा गांधी की कांग्रेस को कुल 352 सीटें मिलीं. जबकि विपक्षी के. कामराज की इंडियन नेशनल कांग्रेस (ऑर्गनाईजेशन) को कुल 51 सीटें मिलीं. हालिया चुनाव चुनाव रुझानों में फिर से यही आंकड़े तैर रहे हैं. बीजेपी नीत एनडीए करीब 350 के इर्द-गिर्द है और कांग्रेस पार्टी 50 सीटों पर आगे है.