Breaking News

मध्य प्रदेश: कमलनाथ सरकार के खिलाफ भाजपा का मोर्चा


मध्य प्रदेश: कमलनाथ सरकार के खिलाफ भाजपा का मोर्चा
मध्यप्रदेश में कमलनाथ सरकार के खिलाफ बीजेपी का मोर्चा, नेता विपक्ष ने राज्यपाल को खत लिखकर की विशेष सत्र बुलाने की मांग, कहा अल्पमत में है सरकार, कांग्रेस ने कहा है पूरा बहुमत.

एक्जिट पोल के आंकड़ों के सामने आते ही मध्य प्रदेश में राजनैतिक तापमान एकाएक बढ़ गया है। प्रदेश की भाजपा ईकाई ने एक्जिट पोल के आंकड़ों से उत्साहित होकर राज्य की कांग्रेस सरकार से बहुमत परीक्षण की मांग की है. विधानसभा में नेता प्रतिपक्ष गोपाल भार्गव ने सोमवार को कहा कि वह विधानसभा का विशेष सत्र शीघ्र बुलाने के लिये राज्यपाल को पत्र लिख रहे हैं ताकि अहम मद्दों सहित नए संदर्भ में सरकार की ताकत का परीक्षण जैसे मामलों को एजेंडे में लिये जा सके। उन्होंने ये भी कहा कि सत्र में हम विशेष मुद्दों जैसे किसान कर्ज माफी और सरकार की ताकत का परीक्षण जैसे मामलों पर चर्चा करना चाहते हैं.

वहीं कांग्रेस का कहना है कि बीजेपी जब चाहे फ्लोर टेस्ट करवा सकती है। कांग्रेस के सभी विधायक उनके साथ हैं। दरअसल 230 सदस्यीय मध्य प्रदेश विधानसभा के लिए बीते साल चुनाव हुए थे जिसमें कांग्रेस 114 सीटें जीती थीं वहीं बीजेपी कांटे के मुकाबले में 109 सीटें हासिल की थी।


बसपा को 2 सीटें, सपा को 1 और निर्दलीय को 4 सीटें मिली थीं। कांग्रेस सरकार को बसपा और सपा ने अपना समर्थन दिया और इस तरह चुनाव में कांग्रेस ने भाजपा को हटाकर सत्ता पर काबिज किया।

कोई टिप्पणी नहीं