Breaking News

मोदी-शाह की मौजूदगी में एनडीए की बैठक और डिनर, प्रधानमंत्री ने कहा- चुनाव तीर्थ यात्रा जैसा


मोदी-शाह की मौजूदगी में एनडीए की बैठक और डिनर, प्रधानमंत्री ने कहा- चुनाव तीर्थ यात्रा जैसा

  • भाजपा कार्यालय में मोदी-शाह की मौजूदगी में 2 घंटे चली एनडीए के मंत्रियों की बैठक
  • शाह ने एनडीए सहयोगियों को रात्रिभोज का न्योता दिया, उद्धव ठाकरे और नीतीश कुमार भी पहुंचे
नई दिल्ली. चुनाव नतीजों से एक दिन पहले भाजपा मुख्यालय में एनडीए के मंत्रियों की बैठक बुलाई गई। यहां प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और भाजपा अध्यक्ष अमित शाह के अलावा गृहमंत्री राजनाथ सिंह और अन्य नेता मौजूद रहे। इसके बाद शाह ने एनडीए के सहयोगियों को रात्रिभोज दिया। शिवसेना अध्यक्ष उद्धव ठाकरे और बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार भी पहुंचे।
गृहमंत्री राजनाथ सिंह ने बताया कि रात्रिभोज में एनडीए के 33 सहयोगियों ने हिस्सा लिया। 3 सहयोगी इसमें शामिल नहीं हो पाए, हालांकि उन्होंने पत्र लिखकर हमें समर्थन का विश्वास दिलाया।
एनडीए गठबंधन आगे भी मजबूत रहेगा- मोदी
एनडीए के मंत्रियों के साथ बैठक में प्रधानमंत्री मोदी ने कहा- मैंने जीवन में कई चुनाव देखे। लेकिन, इस बार का चुनाव किसी चुनावी अभियान जैसा नहीं लगा। यह मेरे लिए एक तीर्थ यात्रा की तरह रहा। एनडीए सरकार का कार्यकाल सफल रहा और आगे भी हमारा गठबंधन मजबूत रहेगा। बैठक में मौजूद रहीं केंद्रीय मंत्री और अकाली दल नेता हरसिमरत कौर ने कहा- 110 फीसदी विश्वास है कि हम दोबारा सरकार बनाएंगे। विपक्ष अपनी हार की ओर देख रहा है।
एग्जिट पोल्स में एनडीए को स्पष्ट बहुमत
एग्जिट पोल्स में एनडीए को स्पष्ट बहुमत मिला है। भाजपा की सहयोगी पार्टियों के नेता भी सत्ता वापसी को लेकर आश्वस्त हैं। नेताओं को उम्मीद है कि नतीजे सर्वे के आंकड़ों से भी बेहतर होंगे। चुनाव परिणाम 23 मई को घोषित होंगे।
सोनिया ने 23 मई को गैर-एनडीए दलों की बैठक बुलाई
यूपीए की चेयरपर्सन सोनिया गांधी ने 23 मई को गैर-एनडीए दलों को बैठक के लिए बुलाया है। पार्टी सूत्रों के मुताबिक, कांग्रेस का मानना है कि भाजपा को इस बार बहुमत नहीं मिलेगा। इसी के मद्देनजर यूपीए प्रमुख ने सेक्युलर पार्टियों के नेताओं को निमंत्रण भेजा है। इनमें शरद पवार, द्रमुक प्रमुख एमके स्टालिन, राजद और टीएमसी के नेता शामिल हैं।