submit your Url to cotid.org tto improve marketing This site is listed under Internet Directory शूटिंग के बीच बिग बी के साथ हुआ था हादसा, मजबूरी में छुपाना पड़ा था एक हाथ -शराबी के 35 साल - THANKS INDIA NEWS

Breaking News

शूटिंग के बीच बिग बी के साथ हुआ था हादसा, मजबूरी में छुपाना पड़ा था एक हाथ -शराबी के 35 साल



शराबी के 35 साल / शूटिंग के बीच बिग बी के साथ हुआ था हादसा, मजबूरी में छुपाना पड़ा था एक हाथ

बॉलीवुड डेस्क अमिताभ बच्चन की सुपरहिट फिल्म शराबी की रिलीज को 35 साल हो गए हैं। 18 मई 1984 को सिनेमाघरों में आई इस फिल्म को प्रकाश मेहरा ने डायरेक्ट किया था। फिल्म अमिताभ की करियर की बेस्ट फिल्मों में शामिल है। लेकिन क्या आप जानते हैं कि इसकी शूटिंग के बीच बिग बी के साथ एक हादसा हुआ था और उन्हें पूरे टाइम अपना बायां हाथ जेब में रखना पड़ा था। खुद बिग बी ने इस हादसे के बारे में अपने ब्लॉग में लिखा था। 

हाथ पर गिर गया था दिवाली बम
- बिग बी ने लिखा था, "शराबी की मेकिंग के दौरान दिवाली बम मेरे हाथ पर गिर गया था। तारीखें तय हो चुकी थीं और शूट कैंसिल नहीं किया जा सकता था। इसलिए मैंने परेशान होने या देरी करने की बजाय आगे बढ़ने का फैसला लिया। हाथ पूरी तरह गल चुका था।" अमिताभ की मानें तो उन्होंने जले हुए हाथ के साथ ही पूरी फिल्म की शूटिंग की। यह उनकी मजबूरी थी कि वो फिल्म में पूरे समय अपना बायां हाथ जेब में रखे दिखे। लेकिन यह उस समय लोगों के बीच फैशन बन चुका था।


3 पॉइंट्स में फिल्म से जुड़ी कुछ और बातें, जो बिग बी ने बताई थीं

1.  हवा में 35 हजार फीट ऊपर आया था आइडिया

- अमिताभ ने ब्लॉग में यह भी बताया था कि फिल्म का आइडिया 1983 में तब आया था, जब वे वर्ल्ड टूर पर निकले थे। अपने तरह के बॉलीवुड के इस पहले टूर के तहत बिग बी और उनकी टीम ने यूएस और लंदन के करीब 10 शहरों में परफॉर्म किया था। जब वो न्यूयॉर्क से ट्रिनीडाड और टोबागो जा रहे थे, तब डायरेक्टर प्रकाश मेहरा ने उनके सामने पिता-पुत्र के रिश्ते पर आधारित फिल्म का आइडिया रखा, जिसमें बेटा शराबी होता है। बिग बी ने लिखा था, "यानी कि फिल्म का बीज अटलांटिक महासागर के ऊपर हवा में करीब 35 हजार फीट की ऊंचाई पर रखा गया था।"

2.  डायरेक्टर को दी थी डायलॉग्स छोटे रखने की सलाह

-  असल जिंदगी में कभी शराब को हाथ लगाने वाले अमिताभ को फिल्म में शराबी का परफेक्ट किरदार निभाना था। इसलिए उन्होंने प्रकाश मेहरा को फिल्म के डायलॉग्स छोटे लिखने की सलाह दी थी। क्योंकि नशे की हालत में डायलॉग बोलने में समय लगता है। बिग बी के मुताबिक, "पहले दिन के शूट के बाद बड़ा ऑब्जर्वेशन किया गया। मैंने प्रकाशजी को कहा कि चूंकि फिल्म में ज्यादातर समय मुझे नशे में रहना है तो अगर डायलॉग लंबे हुए तो मुझे बोलने में समय लगेगा और फिल्म 5 घंटे की हो जाएगी। मेरे पॉइंट्स नोट करने के बाद सिचुएशन के हिसाब से सीन कुछ छोटे किए गए।"

3.  फाइट सीन भी किया था कोरियोग्राफ

- बिग बी के मुताबिक, उन दिनों दिमाग में कई सुझाव अचानक आते थे। आज भी आते हैं। लेकिन तब आखिरी वक्त में आते थे और उनकी कोई तैयारी नहीं होती थी। बकौल अमिताभ, "जैसे कि वह फाइट सीन जहां बार में एक शख्स मेरी घड़ी, चैन और बाकी सामान चुरा लेता है। उसे मैंने कोरियोग्राफ किया था। मजेदार वक्त था वह।" शराबी में प्राण ने अमिताभ के पिता की भूमिका निभाई थी। जया प्रदा, ओम प्रकाश और मुकरी का भी फिल्म में अहम रोल था। फिल्म का डायलॉग 'मूंछें हों तो नत्थूलाल जैसी' काफी पॉपुलर हुआ था।


कोई टिप्पणी नहीं